भोजपुरी गीतन में फूहड़ता

- डॉ. रामरक्षा मिश्र विमल हम छुट्टी ना रहला का कारन गायन के गिनल-चुनल कार्यक्रम दिहींले. एहसे जहाँ गावल असहज लागी, ओहिजा पहिलहीं मना कऽ दिहींले. पहिलहीं जानकारी ले लिहींले कि कवना तरह के प्रोग्राम बा आ के-के आवऽता. ठीक लागल त सँकार लिहलीं, नाहीं...
Continue reading »

धड़केला धक धक छतिया, देखऽ हाली हाली

पाठक पाठिका लोग से निहोरा बा कि एह गीत के कुछ लाइन ठीक से नइखे सुनात. अगर रउरा में से केहू एह लाइनन के पूरा कर देव त बहुते खुशी होखी. गाना सुने लायक बा, शृंगार रस का बावजूद फूहड़ नइखे. अइसन गीतन के प्रशंसा...
Continue reading »

आवऽ बीबी तोहार गरमी छोड़ा दीं, दम बाटे हमरा में कतना बता दीं

फिलिम पंचायत के गाना गायक सिद्धांत माधव कलाकार विराज भट्ट आ काजल राघवानी संगीतकार गुणवंत सेन निर्देशक फिरोज खान निर्माता एम इम्तियाज खान संगीत एसआरके म्यूजिक पर
Continue reading »

नया गायकन ला मौका

भोजपुरी गायकी में नाम कमाए के इच्छा राखे वाला गायक गायिका लोग से निहोरा बा कि अपना गावल गीत के एमपीथ्री (MP3) में बना के अँजोरिया पर डाले ला भेजीं. एह काम में पइसा त ना मिली बाकिर अगर राउर गवनई लोग के पसंद आ...
Continue reading »