भोजपुरी गीतन में फूहड़ता

Ram Raksha Mishra Vimal

- डॉ. रामरक्षा मिश्र विमल

हम छुट्टी ना रहला का कारन गायन के गिनल-चुनल कार्यक्रम दिहींले. एहसे जहाँ गावल असहज लागी, ओहिजा पहिलहीं मना कऽ दिहींले. पहिलहीं जानकारी ले लिहींले कि कवना तरह के प्रोग्राम बा आ के-के आवऽता. ठीक लागल त सँकार लिहलीं, नाहीं त कवनो बहाना कऽ के हाथ जोरि लिहलीं. कुछ दिन पहिले अपना एगो मित्र आ सीनियर भोजपुरी गायक से दुख-सुख बतियावत रहीं. पुछलीं – भइया रउरा अइसन कठिनाई होला कि ना ? उहाँके जवाब से संतोष त मिलल बाकिर मन बहुत दुखियो भइल. कहलीं कि, देखऽ विमल ! हम त साफ-साफ कहि देलीं कि हम जवन गाईंले तवने गाइबि. ऊहे सुनेके होखे त एडवांस रहे दऽ, ना त ले जा. अब भोजपुरी गावल बहुत कठिन हो गइल बा. लोकगीत गाइबि त छठे-छमासे कबो प्रोग्राम मिल जाई आ आज-काल्ह के लइका जवन गावतारे सन ऊ गाइबि त रोजे चानी बा. भाई, अब दोसरका त हमनी से संभव नइखे. एहसे हम अपना श्रोता वर्ग के निर्धारण कऽ लेले बानी. हम अब कवनो चिंता ना करीं. खाए-पीए के पइसा नोकरी से मिल जाला, गायन के खाली सवख खातिर रखले बानी. कुछ सरकारी प्रोग्राम मिल जाला. अब ओहमें केहू ऊ वाला गाना गावे के प्रेसर त नाहिंए दी. बस ठाट से गाईंले. ऊ वाला गाना माने फूहर गाना, जवन तथाकथित सभ्य लोगन खातिर सुनल संभव नइखे भा जवना गीतन के केहू खासकर भोजपुरी जाति अपना बेटी बहिन का साथे नइखे सुनि सकत.
आगे पढ़ीं…

धड़केला धक धक छतिया, देखऽ हाली हाली

पाठक पाठिका लोग से निहोरा बा कि एह गीत के कुछ लाइन ठीक से नइखे सुनात. अगर रउरा में से केहू एह लाइनन के पूरा कर देव त बहुते खुशी होखी. गाना सुने लायक बा, शृंगार रस का बावजूद फूहड़ नइखे. अइसन गीतन के प्रशंसा होखे के चाहीं.

बोलेला देख के कजरा
बोलेला देख के कजरा
बोले होठ लाली
हाय राम
बोलेला देख के कजरा
बोले होठ लाली
ए मोरे रजऊ हो
ए मोरे रजऊ हो
कब ले बनइबऽ घरवाली
ए मोरे रजऊ हो
कब ले बनइबऽ घरवाली

क दिहनी तोहरे नामे
जवानी के जानमा
क दिहनी तोहरे नामे
जवानी के जानमा
सनेहिया के सुर में बाटे
हाथ के कँगनवा
हाथ के कँगनवा
……
रुप चमके तू
……

धड़के बोलेला ई धड़कन

शरम के रहिया ई हरदम
धड़केला धक धक छतिया
धड़केला धक धक छतिया
देख हाली हाली
हाय राम
देख हाली हाली
ए मोरे रजउ हो
मोरे करेजउ हो
कब ले बनइबऽ घरवाली
ए मोरे रजउ हो
कब ले बनइबऽ घरवाली

कतनो लगाईं ना लागे
तोहरा बिना मनवा
केतनो लगाईं केतनो लगाईंकेतनो लगाईंकेतनो लगाईं
ना लागे
तोहरा बिना मनवा
फँस गइल तोहरे में ही
हमरे परनवा
हमरे परनवा

एक दिन बनबू तू दुलहन
एक दिन बनबू तू दुलहन
बनल रही चाहत के मौसम

दुलहा बन के आइब दुअरा
दुलहा बन के आइब दुअरा
बाजी शहनाई
हाय राम बाजी शहनाई
ए मोरे रानी हो
ए दिलबर जानी हो
डोली तोहर हमरे घर आई
ए मोरे रानी हो
डोली तोहर हमरे घर आई

सत्यमेव जयते फिलिम के गीत

बैनर इरोस इंटर नेशनल
निर्माता अनिल सिंह
निर्देशक बबलू सोनी
कलाकार रविकिशन, अक्षरा सिंह
गायक गायिका ??
संगीतकार राजेश रजनीश

आवऽ बीबी तोहार गरमी छोड़ा दीं, दम बाटे हमरा में कतना बता दीं

फिलिम पंचायत के गाना
गायक सिद्धांत माधव
कलाकार विराज भट्ट आ काजल राघवानी
संगीतकार गुणवंत सेन
निर्देशक फिरोज खान
निर्माता एम इम्तियाज खान
संगीत एसआरके म्यूजिक पर

नया गायकन ला मौका

भोजपुरी गायकी में नाम कमाए के इच्छा राखे वाला गायक गायिका लोग से निहोरा बा कि अपना गावल गीत के एमपीथ्री (MP3) में बना के अँजोरिया पर डाले ला भेजीं. एह काम में पइसा त ना मिली बाकिर अगर राउर गवनई लोग के पसंद आ गइल त प्रचार आ लोकप्रियता मिली आ हो सकेला कि कवनो फिलिम भा म्यूजिक एलबम बनावे वाली कंपनी रउरो के मौका दे देव.

हमार इमेल पता ह anjoria@outlook.com